AMU अल्पसंख्यक मामिले पर AMUOBA और AIMMM की बैठक

amuoba

नई दिल्ली ( सदा ए भारत टीम ) ​​अलीघढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के अल्पसंख्यक चरित्र की समस्या जब से भारत सरकार की ओर से प्रकाश में आया है उसी दिन से अली गरह मुस्लिम विश्वविद्यालय ओल्ड ब्वायज एसोसिएशन और अन्य मिल्लत के शुभचिंतक लोगों ने अल्पसंख्यक भूमिका को बचाने के लिए हर तरह के प्रयासों में लगे हुए हैं। हर तरह के लोगों से विचार विमर्श कर रहे हैं इन्हीं प्रयासों में यह भी शामिल है ,

ऑल इंडिया मुस्लिम मजलिस मशवरत के अध्यक्ष से ओल्ड ब्वायज के अध्यक्ष और सचिव व अन्य के एक महत्वपूर्ण बैठक हुई जिसमें दोनों संगठनों के महत्वपूर्ण चेहरों ने शिरकत की और कैसे एएमयू के अल्पसंख्यक चरित्र को बचाया जाए इस पर घंटों टका विचारविमर्श की। मुश्वारात के अध्यक्ष नवेद हामिद की ओर से यह प्रस्ताव सामने आई कि एएमयू ओल्ड बॉयज मुशावर्त के तत्वावधान में इस समस्या को आगे पढ़ाए इस पर काफी सारे लोगों ने सहमति जताई।

लेकिन ओल्ड बॉयज के अध्यक्ष मोहम्मद इरशाद ने इस पर असहमति जताते हुए अपनी राय पेश की और कहा कि हम लोगों ने राप्ता कमेटी गठित कर ली है और इसी के तहत इस उपलब्धि को आगे अंजाम दिया जाएगा और मशवरत कमिटी के साथ मिलकर इस काम को आगे बढ़ाए।
ओल्ड बॉयज के के सचिव मुद्द्सिर हयात ने अपनी राय रखते हुए कहा चूंकि अब राप्ता कमिटी का गठन किया जा चुका है और अगर हम मुशावर्त के नेतृत्व में काम को अंजाम देंगे तो काफी सारे लोग नाराज हो सकते हैं।

आखीर में कुछ लोगों ने यह भी सलाह दिया कि चूंकि मुशावरत विभिन्न संगठनों का संघ है इसलिए हमें इस के मदद की ज़रूरत है।

Facebook Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *