स्वतंत्रता दिवस भाईचारे,प्रेम और राष्ट्रीय एकता का संदेश देता है : म. अजहर मदनी

sanabil Girls
नई दिल्ली ( सदा ए भारत टीम ) हमारा महान देश आजादी के बाद सत्तर साल का सफर तय कर चुका है, जिस शुभ अवसर पर आज हम यहाँ एकत्रित हूए हैं निश्चित तौर स्वतंत्रता दिवस हमारे लिए अत्यंत प्रसन्नता और हर्ष भरा है क्योंकि हमारे पूर्वजों के बेदाग चरित्र, प्रतिबद्धता और देश भक्ति, बलिदान और साहस व हिम्मत की बदौलत ही हमें स्वतंत्रता प्राप्त हुई। हम जब स्वतंत्रता दिवस का जश्न मना रहे हैं तो यह आवश्यक है कि हम स्वतंत्रता मूल्य जानें और इस शुभ अवसर पर प्रतिज्ञा लें कि हम एक बेहतर नागरिक बन कर अपने देश के विकास में अपनी भूमिका अदा करेंगे।

इन विचारों को व्यक्त इक़रा गर्ल्स इंटरनेशनल स्कूल के निदेशक मौलाना मोहम्मद अजहर बिन असगर अली मदनी ने स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर आयोजित शाहीन बाग शाखा के छात्र छात्राओं को संबोधित करते हुए किया. .मौलाना मोहम्मद अजहर मदनी ने कहा कि स्वतंत्रता दिवस हम देशवासियों को आपसी भाईचारे, प्रेम और शान्ति.की शिक्षा देता है। हमारे पूर्वजों की एकता व सहयोग से ही हमें स्वतंत्रता प्राप्त हुई और अंग्रेजों को बेदखल होना पड़ा।

हम मुसलमानों के लिए आवश्यक है कि हम अपने अंदर राष्ट्रीय एकता के साथ साथ एक दूसरे को सहन करने की क्षमता पैदा करें और क़ौम व मिल्लत के नन्हे बच्चों को शिक्षा दिलाने के लिए प्रयास करें, क्योंकि देश के विकास के लिए शिक्षा महत्वपूर्ण है।
मौलाना ने अपनी बात जारी रखते हुए कहा कि आज दुनिया को कई चुनौतियों का सामना कर रही है उनमें सबसे खतरनाक चुनौती आतंकवाद है। आतंकवाद एक वैश्विक नासूर है। इस्लाम ने हर तरह के आतंकवाद को सख्ती से मना किया है और शांति का पैग़ाम दिया है।

यह बेहद अफ़सोस है कि कुछ फासीवादी ताकतें इस नासूर को इस्लाम और मुसलमानों से जोड़ने की नापाक कोशिश करती हैं। हम आतंकवाद की कड़े शब्दों में निंदा करते हैं तथा इस तरह की मूर्खतापूर्ण प्रयासों और बेहूदा हरकत की कठोर शब्दों में आलोचना करते हैं।
इस्लाम में इस प्रकार की कोई जगह नहीं है ।
इससे पहले इक़रा गर्ल्स इंटरनेशनल स्कूल, शाहीन बाग के होनहार छात्र छात्राओं ने विभिन्न शैक्षिक एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम पेश किए। कार्यक्रम को आरंभ के जी क्लास के एक छात्र जीशान और पहली कक्षा की छात्रा रमषा ने तिलावते कलाम पाक से हुआ ।

बाद में कई छात्रों छात्राओं ने उर्दू, हिंदी, अंग्रेजी और अरबी भाषाओं में विभिन्न उपयोगी भाषण पेश किया।
इसके अलावा नर्सरी और केजी कक्षा के शाहीन बाग ब्रांच के छात्र छात्राओं ने भी कई सांस्कृतिक कार्यक्रम पेश किए जिसको छात्रों छात्राओं के अभिभावकों और गार्जीयनस ने खूब सराहा। इस कार्यक्रम में स्वतंत्रता आंदोलन के संबंध में भी विभिन्न रंगा रंग कार्यक्रम पेश किए गए जिसमें छात्रों ने महान स्वतंत्रता सेनानियों शाह इस्माइल शहीद शेख क्षारीयता प्रति क्षारीयता मियां नजीर हुसैन देहलवी, मौलाना अबुल कलाम आजाद, उलमाए सादिक पुर, पटना, अशफाक उल्लाह ख़ां, महात्मा गांधी , पंडित जवाहरलाल नेहरू, सुभाष बोस, टीपू सुल्तान, नवाब सिराजुद्दौला आदि के बलिदान का जिक्र किया और उन्हें श्रद्धांजलि दी।

इस मौके पर एमडी असद असगर अली ने भी कार्यक्रम को संबोधित किया और इकरा गर्ल्स इंटरनेशनल स्कूल के लक्ष्यों और उद्देश्यों और गुणों पर प्रकाश डाला और कहा कि इकरा गर्ल्स इंटरनेशनल स्कूल में सीबीएससी पाठ्यक्रम के साथ साथ कुरान इस्लामी, अरबी की शिक्षा दी जाती है और इस्लामी पदों पर बच्चों कूतर्बियत दी जाती है। इसके बाद स्कूल की प्रिंसिपल श्रीमती नाज़िया ने सभी दर्शकों को धन्यवाद दिया और कार्यक्रम के समाप्ति की घोषणा की। कार्यक्रम में क्षेत्र शाहीन बाग के जिन सामाजिक हस्तियों ने शिरकत फरमाई इन में मीर ज़ियाउल्लाह नोमान, मोहम्मद रईस फ़ैज़ी, इंजीनियर क़मरुज़्जमान, अब्दुल क़ादिर, मोइनुद्दीन शोएब रहमान, सईद रहमान सनाबली और मौलाना मोहम्मद फज़लुर्रहमान नदवी आदि महत्वपूर्ण और उल्लेखनीय हैं

Facebook Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *