IHBAS अस्पताल के अस्थायी कर्मचारियों की मांगों को लेकर स्वराज इंडिया का जोरदार प्रदर्शन

नई दिल्ली ( एस.बी. डेस्क ) पिछले कई दिनों से अनशन पर बैठे कर्मचारियों के लिए आज स्वराज इंडिया के कार्यकर्ताओं ने अस्पताल प्रशासन के सामने जबरदस्त प्रदर्शन किया। स्वराज इंडिया के कार्यकर्ताओं ने प्रशासन से कर्मचारियों की मांग पूरी करने की अपील की। काम से निकाले गए कर्मचारियों को वापस काम पर लेने के लिए अस्पताल प्रशासन ने 10 दिन की मोहलत माँगी है। इस आश्वासन के बाद पी एस शारदा ने कर्मचारियों का अनशन तुड़वाया।

ज्ञात हो कि दिल्ली सरकार के स्वास्थ्य मंत्रालय के अधीन आने वाले IHBAS अस्पताल के सारे अस्थायी कर्मचारियों का PF व ESI पिछले 15 सालों से रोक के रखा गया है। बीती दिवाली का बोनस भी नहीं दिया गया है। और जब उन्होंने आवाज़ उठाई तो उन्हें काम से निकाल दिया गया। उनके साथ मारपीट की गई।

स्वराज इंडिया के कार्यकर्ताओं की मदद से कर्मचारियों ने राज्यपाल और केंद्रीय सचिवालय में भी प्रार्थनापत्र के माध्यम से मदद की गुहार की, लेकिन किसी भी विभाग के कान पर जूँ तक नहीं रेंगी।

23 फ़रवरी से ये कर्मचारी भूख हड़ताल पर बैठे थे। एक अनशनकारी महिला फ़ातिमा को बेहोशी के कारण हॉस्पिटल ले जाया गया। परिवार यूनिटी ngo भी पीड़ितों के साथ खड़ा था। स्वराज इंडिया ने पीड़ितों के साथ अंतिम समय तक लड़ाई लड़ने का प्रण लिया है और ज़रूरत पड़ने पर क़ानूनी कार्यवाई करने की चेतावनी दी है।

Facebook Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *