बधाई हो हिंदू हिंदू हो गया और मुसलमान मुसलमान

( एस.बी.विशेष लेख ) उत्तर प्रदेश के विधान सभा चुनाव में हिंदूओं ने समशान के लिए हिदुत्व को चुना और मुसलमानों ने कब्रिसतान के लिए नहीं बल्कि दादरी और बाबरी का बदला लिया है। भाजपा की जीत का जशन सबसे पहले मुसलमानों को मनाना चाहिए, क्योंकि भाजपा ही एक ऐसी पार्टी है जो सबका साथ सबका विकास की बात करती है।

भले ही भाजपा चुनावों में मुसलमानों को टिकट ना दे , भले ही उत्तर प्रदेश मंत्री मंडल में इतिहास में पहली बार कोई मुस्लिम ना हो। भले ही भाजपा कांग्रेस और सपा बसपा पर मुस्लिम हितेशी होने का आरेप लगाए।

मुसलमानों ने इस बार अपना मख्यमंत्री बनाने की ठानी थी। लेकिन वोट ओवैसी को भी दिया पीस पार्टी को भी दिया यहां तक की सपा बसपा को भी वोट दिया। मुसलमानों के नेता ओवैसी ने नारा दिया बाबरी और दादरी वालों को सबक़ सिखाओ तो मुसलमानों ने सबक़ सिखा ही दिया। अब ना बाबरी होगा ना दादरी राम मंदिर निर्माण भी नहीं होगा। दंगों से मुक्ति मिल जाएगी।

भाजपा को जिताने में मुसलमानों की महत्वपुण भूमिका रही बड़ी दरिया दिली से मुसलमानों ने सबको बराबर बराबर वोट किया। मुसलमानों जशन मनाओ देखो बाबरी और दादरी वाले दोनों हार गए।

अखिलेश, राहुल, मायावती को अब मुसलमानों का सहारा छोड़ उन्हें भी हिंदुत्व अपनाना चाहिए तभी भाजपा को हरा सकते हैं वरना काम गिनाते गिनाते थक जाओगे ।

अगर राजनीति में बने रहना है तो जुम्मन मौलानाओं की जी हुजूरी छोडनी होगी। जिसका उद्धारण आम आदमी पार्टी है। दिल्ली में जब जुम्मन चाचा ने समर्थन देने की बात की थी तब आम आदमी पार्टी ने समर्थन लेने से इंकार कर दिया था।

कोई हिंदू दल मुसलमानों की हितों की बात क्यों करे इसलिए हिंदुत्व अपनाइए। मुसलमानों की आवाज़ बुलंद करने उनको दादरी बाबरी से बचाने के लिए असद भाई हैं ना।

Facebook Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *