भाजपा को फिर लगा तगड़ा झटका,राष्ट्रपति उम्मीदवार चुनने का अधिकार प्रधानमंत्री को देने से शिव सेना खफा

मुंबई ( एस.बी.डेस्क ) राष्ट्रपति चुनाव के लिए राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) में आम राय बनाने की भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के प्रयासों को करारा झटका लगा है, क्योंकि सूत्रों के मुताबिक राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार चुनने का पूरा अधिकार प्रधानमंत्री मोदी को देने पर एनडीए की सहयोगी पार्टी शिवसेना ने असहमति जताई है।

गौरतलब है कि भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने आज यहां शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे से उनके निवास पर मुलाकात की। दोनों नेताओं के बीच बैठक लगभग एक घंटे तक चली। इस अवसर पर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस भी मौजूद थे। श्री शाह राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार को लेकर आम सहमति बनाने हेतु विभिन्न राजनीतिक दलों के नेताओं के साथ बैठक कर रहे हैं।

बताया जाता है कि बैठक में भाजपा की ओर से पेशकश की गई कि राष्ट्रपति चुनाव में उम्मीदवार चुनने का अधिकार एनडीए में प्रधानमंत्री मोदी को दिया गया है और शिवसेना ने भी इसका समर्थन किया है हालांकि शिवसेना ने इससे असहमति जताई है।

श्री शाह और श्री ठाकरे की बैठक इसलिए भी काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है, क्योंकि भाजपा सहयोगी शिवसेना ने पिछले दो मौकों पर राष्ट्रपति पद के लिए संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) के उम्मीदवार को प्राथमिकता दी थी। शिवसेना के लोकसभा में 16 सदस्यों, राज्यसभा के तीन और 63 विधायक हैं।

Facebook Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *