ओखला में वर्षों से रास्ते,सीवर सिसटम राजनीतिक प्रतिनिधियों की अनदेखी का शिकार

नई दिल्ली ( एस.बी.टीम ) ओखला विधान सभा में इस समय जनता सीवर सिस्टम, नाला नालियों का जाम व रास्तों का टूटा होना अदि से इस तरह आहात है कि वह अपने घर से निकलना, मस्जिदों में नमाज़ के लिए जाना, बच्चों को स्कूल छोड़ना,बुजुर्गों को अस्पताल ले जाना आदि जैसी परेशानियुओं से दोचार हैं। इन सबके बावजूद यहां के सियासी प्रतिनिधि सिवाय वादों के कोई ध्यान नहीं दे रहे हैं।

आप को बता दें की ओखला क्षेत्र को मुसलमानों का दिल कहा जाता है यहां जामिया मिलिया इस्लामिया जैसी महान पाठशाला है, यहां जमाते इस्लामी जैसी बड़ी मुस्लिम संगठनों का केन्द्रों भी हैं लेकिन इन सबके बावजूद यहां सार्वजनिक समस्याओं का अंबार है।

इस समय जो सबसे बड़ा मुद्दा है वह सीवर सिस्टम का ठप हो जाना, मार्गों का वर्षों से न बनाया जाना,नाले नालियों की सफाई न होना। यही कारण है कि घरों से निकलने वाला पानी रास्ते में जमा होता है जिस से गंदगी और बड़ी बड़ी बीमारियां पैदा होती हैं।

इस समय बरसात का मौसम है बारिश का पानी निकलने के लिए कोई व्यवस्था नहीं है यही कारण है कि आम मार्गों की स्थिति बाढ़ नुमा हो चुकी हैं। ओखला में यह स्थिति कोई नया नहीं है बल्कि वर्षों से है कई बार स्थानीय लोगों ने यहां के प्रतिनिधियों से सही करने के संबंध में बैठक भी कर ली लेकिन कोई ध्यान नहीं दिया गया।

इस संदर्भ में कुछ स्थानीय लोगों ने राजनीतिक प्रतिनिधियों के खिलाफ उसी जगह पर विरोध भी किया। जब हम ने उनसे बात की तो उन लोगों ने राजनीतिक प्रतिनिधियों और दिल्ली सरकार पर काम न करने का आरोप लगाया और कहा कि वह केवल हम से वादे करते हैं लेकिन काम कुछ नहीं करते।

लोगों ने और क्या कहा वीडियो में ज़रूर सूने

Facebook Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *