छात्रवृत्ति के लिए आवेदन कम आने पर दिल्ली अल्पसंख्यक आयोग ने मुख्तार अब्बास नकवी को लिखा पत्र

नई दिल्ली ( एस.बी.डेस्क ) केंद्र और दिल्ली सरकार द्वारा अल्पसंख्यकों को दिए गए छात्रवृत्ति योजनाओं में इस साल बहुत कम आवेदन हैं। इसका एक कारण आवेदक की एक प्रमाणित एसडीएम से प्रमाणित प्रमाण पत्र प्रस्तुत करना है, जो गरीब लोगों के लिए बहुत मुश्किल है। इस संबंध में शिकायतें आने के कारण दिल्ली अल्पसंख्यक आयोग ने प्रांतीय एससी / एस टी / ाोबी सी / विभाग को पत्र लिखा कि इस शर्त को समाप्त किया जाए और निजी सत्यापित (सेल्फ अटेस्टेशन ) प्रणाली बहाल किया जाए।

विभाग ने उल्लेख किया है कि इस शर्त को केन्द्रीय अल्पसंख्यक मामलों के मंत्रालय में निर्देशित किया गया है, इसलिए इसे बदला नहीं जा सकता। इस उत्तर के आने के बाद दिल्ली अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष डॉक्टर ज़फरुल इस्लाम खान ने केंद्रीय मंत्री अल्पसंख्यक मामलों के मुख्तार अब्बास नकवी को पत्र लिखा है कि इस वर्ष छात्रवृत्ति अनुरोध बहुत कम होने के कारण वास्तव में एसडीएम से माता पिता की आय का सर्टिफिकेट प्राप्त करने की स्थिति है।

दिल्ली अल्पसंख्यक आयोग ने केंद्रीय अल्पसंख्यक मंत्री से अनुरोध किया है कि इस शर्त को हटा दिया जाए और निजी पुष्टि पुराने सिस्टम को बहाल किया जाए ताकि गरीब छात्रों को पेश आने वाली समस्या का निवारण हो सके।

Facebook Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *