अगर मुसलमान चाहते हैं की दुनिया में दूसरा कर्बला न हो तो उन्हें इत्तेहाद करना होगा : एर्दोगान

यौमे आशूरा के मौके पर तुर्की के राष्ट्रपति और इस्लाम के लोकप्रिय नेता रजब तैयब एर्दोगन ने मुस्लिम दुनियां के नाम जारी एक पैग़ाम में कहा कि दुनिया को अगर दूसरा करबला बनने से रोकना है तो हमें अपनी सफ़ों में एकता पैदा करना होगा।

राष्ट्रपति एर्दोगन ने सोशल मीडिया पर योमे शहादत हुसैन के मद्देनजर मुसलमानों के नाम अपने पैगाम में कहा कि 1378 साल पहले करबला में पैदा होने वाली क़यामत के तमाम शहीदों की शहादत हमारे लिए मार्गदर्शन है। जिनकी मगफिरत के लिए अल्लाह से दुआ करता हूँ।
उन्होंने कहा कि यह दुखद घटना हमें भाईचारा, एकता और अपने खेमों में गठबंधन करने की हिदायत देता है, क्योंकि यही समय की मांग है। मैं इस घटना के मद्देनजर अल्लाह तबारक व तआला से दुआ करता हूँ कि यौमे आशुरा पर रोजेदारों के रोज़े को कुबूल करते हुए मुसलमानों और अन्य समुदाय के बीच शांति और न खत्म होने वाली खुशहाली और अच्छाई पैदा करे।

Facebook Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *