सिरिया में कत्लेआम के खिलाफ जामिया छात्रों ने किया एहतेजाज

नई दिल्ली ( एस.बी.टीम ) जामिया मिलिया इस्लामिया के छात्रों ने सीरिया में हो रहे मानव कत्लेआम के खिलाफ संयुक्त राष्ट्र संघ व विभिन्न राष्ट्रों से सीरिया में अमन शांति व इंसाफ की अपील की l जामिया छात्रों ने कैंडल मार्च व दुआ मांगकर सीरिया में हो रहे जुल्म के खिलाफ इंसाफ की गुहार लगाई जैसा कि हम जानते हैं पिछले 2 सप्ताह में सीरिया के अंदर सैकड़ों बच्चे ,महिलाएं व आमजन बुरी तरह से मौत के शिकार हैं तथा हजारों लोग बेघर हो गएl

सिरिया के तानाशाह बशर अल असद सरकार के द्वारा हो रहे हवाई हमले से हजारों लोग मौत के घाट उतर चुके व हजारों की संख्या में घायल हुए हैं इसलिए आज जामिया के छात्रों ने संयुक्त राष्ट्र संघ तथा भारत सरकार , पश्चिमी एशिया के देशों , मध्य एशिया के देशों और अमेरिका व रूस से सीरिया के अंदर हस्तक्षेप कर सीरिया में अमन शांति पैदा करने कि लिए अपील की है l

इमरान चौधरी रिसर्च स्कॉलर का कहना है कि जामिया हमेशा विश्व के विभिन्न मुद्दों पर अपना तर्क व सहयोग देता आया है इसलिए आज जामिया के छात्रों ने कैंडल मार्च कर तथा दुआ मांग कर अपील की है कि सीरिया में अमन व शांति पैदा हो तथा संयुक्त राष्ट्र संघ से अपील की है की सीरिया मे हस्तक्षेप कर सीरिया के लोगों को इंसाफ दिलाए और उनके अधिकारों को ना दबाया जाए तथा सीरिया का मुद्दा जल्द से हल किया जाए ताकि सीरिया मे कत्लेआम बंद हो सकेl छात्र एक्टिविस्ट सफेरा जरगर ने बताया कि हम सीरिया के अंदर बच्चो, महिलाए वं बुजुर्ग हो रहा कत्लेआम के खिलाफ है और सीरिया के अंदर अमन शांति चाहते हैं तथा संयुक्त राष्ट्र संघ को अपनी चुप्पी तोड़नी चाहिए व हस्तक्षेप कर सीरिया का मुद्दा हल करना चाहिएl मोहम्मद दानिश मुकुंद झा हसनैन रजा व सालिम उमर का मानना है कि जामिया हमेशा नाइंसाफी के खिलाफ आवाज उठाता आया है चाहे वह भारत हो विश्व का कोई कोना जामिया ने नाइंसाफी के खिलाफ हमेशा आवाज बुलंद की हैl

Facebook Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *